रात्रि पर कविताएं। Good night poems in hindi

रात्रि पर कविताएं। Good night poems in hindi

हेल्लो दोस्तो स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज मै आपके लिए रात्रि पर कविताएंGood night poems in hindi लेकर आया हूं रात का मौसम बड़ा ही सुहाना ओर प्यारा होता है इसलिए आपको ये कविताएं जरुर पसंद आएगी तो बिना किसी देरी के हम पोस्ट की शुरुवात करते है।

Overview:

  • रात्रि पर कविता
  • रात पर सुंदर कविता
  • रात्रि पर कविताएं
  • Good night poems in Hindi

रात्रि पर कविताएं। Good night poems in hindi

रात्रि पर कविताएं। Good night poems in hindi

1. रात्रि पर कविता
Night poem in Hindi

रात का शमा छाया है,

ये कैसा आलम आया है,

हर तरफ चांद की चांदनी है,

चांद भी आसमान से निकल आया है,

हर तरफ दिखाई दे रहा है प्यार,

चांद ने चांदनी को पास बुलाया है,

देखो रात का ये कैसा समा आया है,

रात इतनी सुनहरी है,

मेरा महबूब मेरी बाहों में आया है,

दूर तलक एक चकोर,

कहीं प्यार के गीत गाया है,

देखो आज ये कैसा आलम आया है,

सबने देखा है मेरे मन को,

दुनिया ने मुझे जाना है,

आज मै बहुत खुश हूं,

चांद ने अपना नुर बरसाया है।।

2. रात पर सुंदर कविता
Love good night poem

रात आ गई है आप भी आ जाओ ना,

मुझे अपनी बाहों में सुलाओ ना,

जैसे चांद सो गया चांदनी के पास,

तुम भी मेरे पास सो जाओ ना,

तुम्हारे कंधे पर सर हो मेरा,

मुझे गले से लगाओ ना,

मै कब से बैठी हूं पलके बिछाए,

तुम मेरे करीब आओ ना,

मै तो सिर्फ तुम्हारी राह देख रही हूं

तुम मुझे सीने से लगाओ ना,

मेरे हमसफ़र हो तुम हमदम,

इस रात की तरह मुझसे लिपट जाओ ना।।

3. रात्रि पर कविताएं
Best good night poem in Hindi

कभी कभी लगता है ये रात कितनी सुहानी है,

कोई नहीं है इसका ओर ये चांद की दीवानी है,

कभी किसी के लिए दर्द भरी बन जाती है,

कभी ये खुशियों कि दीवाली है,

कोई गाता है प्रेम के गीत,

किसी के लिए ये मतवाली है,

ये रात आज बड़े दिनों बाद आई है,

जब हर तरफ खुशहाली है,

उस कमबख्त की याद फिर से आयी है,

रात ने दी फिर मुझे तन्हाई है,

मै फिर से लगा हूं रोने अब,

ये रात वापस दर्द भरी आई है,

पर इस अंधेरी रात का सवेरा हो जाएगा,

कल फिर से उजाला हो जाएगा,

फिर से ये चांद कल रात

वापस चांदनी से मिलने आएगा।।

4. Good night poem in Hindi

दूर खेत मै बैठा किसान सोच रहा होगा,

इस अंधियारी रात को देख रहा होगा,

अब कोई नहीं है उसके पास,

पर वो फिर भी मस्त मगन हो रहा होगा,

कितना अजीब है ना ये शमा,

उसके बिना दिन रात ये रो रहा होगा,

कभी कभी लगता है जिंदगी कुछ नहीं,

पर फिर एक लकड़हारा जंगल जा रहा होगा,

कहीं पर इस रात सोया नहीं होगा,

कई बच्चे भूख के लिए रोया होगा,

जिंदगी चल रही है अब मेरी,

पर मुझे इस रात ने कभी ना देखा होगा,

आज चांद उतर आया है,

मेरे हिस्से मै मैने उसे कभी ना देखा होगा,

लोग कहते है मुझे बुरा ,

पर मैने रात को कभी जलते हुए नहीं देखा होगा,

नदिया को पानी बह रहा है कल कल,

मैने उसे कभी रुकते हुए नहीं देखा होगा।।

5. Good night love poem in Hindi

एक रात जब मै उसके साथ बिताऊंगा,

कैसे अपने दिल की बात कह पाऊंगा

एक दूसरे के जज्बात समझ लेंगे हम,

मै उसे बिना कहे बता पाऊंगा,

उससे करता हूं कितना प्यार,

क्या मै इसे समझा पाऊंगा,

उसके कंधे पर सर रखकर,

मै तो वहीं सो जाऊंगा,

मेरे हिस्से की जिंदगी भी उसे मिल जाएगी,

मै सब कुछ उसके नाम कर जाऊंगा,

ए मेरे खुदा उसे खुश रखना,

मै उसके हिस्से मै प्यार बनकर आऊंगा,

ये रात ऐसे ही जवां रहनी नहीं चाहिए,

मै तो उसमे ही खो जाऊंगा,

उसकी जुल्फो मै खोकर,

हमेशा के लिए उसका हो जाऊंगा

जिंदगी से नाता तोड चुका हूं मै

पर उससे दिल्लगी कर जाऊंगा,

मै तो उसके लिए अब खुदा से भी लड़ जाऊंगा।।

Final words: आपको ये रात्रि पर कविताएं ( good night poem in hindi) पर कविता कैसे लगी हम कॉमेंट करके जरुर बताए और इसे अपने दोस्तो ओर परिवार के साथ जरुर शेयर करे फिर मिलते है आपसे एक नई कविता के साथ, ये सारी कविताएं स्वरचित है अन्य ब्लॉग द्वार कॉपी करने पर हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है।

एक टिप्पणी भेजें

Do not enter any spamming comment