Emotional Love Story in Hindi। इमोशनल लव स्टोरी इन हिंदी

Emotional Love Story in Hindi। इमोशनल लव स्टोरी इन हिंदी

Emotional love story in hindi

आज मै आपके लिए एक बहुत ही अच्छी कहानी Emotional love story in hindi लेकर आया हूं जिसको पढ़कर आपको मजा आ जाएगा ये कहानी आप जब पढ़ने लगेंगे तो आपको पता लगेगा कि आखिर जब प्यार होता है तो वो खुशी कैसी होती है।।

Emotional love story in hindi

Emotional love story in hindi। इमोशनल लव स्टोरी इन हिंदी

हवा का झोंका उसके चेहरे को छू के जा रहा था ,वो अभी भी कॉलेज के टेरस पे थी जहाँ हल्की हल्की बारिश भी हो रही थी ,तभी उसकी फ़्रेंड पिया अपने बैग को सर पे रखते हुए आयी और उसे पकड़ते हुए बोली ," अरे चल दिशा ,देख कितनी तेज़ बारिश हो रही है ! अगर हम इस हालत में घर पहुँचे तो हमारी खैर नहीं!

दिशा उसकी तरफ मुड़ी ,प्यारी आंखे जिनमें हर एक पल को जीने की चाहत, हल्के सुनहरे बाल जो भीगे हुए थे ,होठों पे मुस्कान जो किसी को भी उसका दीवाना बना दें।

दिशा :: अरे यार क्या जल्दी है ये बारिश भी कभी कभी आती है ,उसमे भी तुम्हे मुझसे इसे छीनना है !

पिया उसे लगभग पकड़के घसीट के नीचे ले जाने लगी ," चुप चाप चल ,अगर ज्यादा भीगी तो बीमार पड़ जाएगी वैसे ही तेरी इम्युनिटी कमजोर है !

ये सुन एक पल के लिए दिशा की मुस्कान गायब हो गयी ।वो उसके साथ चल पड़ी ,पर पिया अभी भी उससे गुस्सा थी ,वो दोनो कॉलेज के कॉरिडोर में आ गयी ,दिशा पिया की तरफ मुँह कर चल रही थी और बोली :: यार देख हमें कुछ नही हुआ है ,ये हमारी कॉलेज का लास्ट ईयर है तो चिल मार!

इस बात पे पिया मुस्कुरा दी ।और ये देख दिशा हँसते हुए बोली :: सो स्माइल प्लीज !

ओर पिया हँस पड़ी :: तो किसी को उदास नहीं देख सकती क्या ?

दिशा :: बिल्कुल नहीं ! हमें सड़े हुए लोग बिल्कुल पसंद नही ! लाइफ में प्रॉब्लम सबके है अब अगर उन प्रॉबलम्स का रोना रोते रहेंगे तो लाइफ में एक्साईटिंग चीज़ें कब करेंगे ! लाइफ में बहुत कुछ है पाने को तो हर पल को खुल के जिओ न कि एक चीज़ को पकड़ के बैठो और रोओ !

पिया हाथ जोड़ते हुए बोली :: देवी जी शत शत नमन !
दिशा हाथ उठा के आशीर्वाद वाली मुद्रा में बोली :: तथास्तु बालिके !
तभी पीछे से आते एक लड़के की तरफ दिशा ने ध्यान नहीं दिया ,और वो उससे टकराई और गिरते गिरते बची ,पर उस लड़के ने उसे थाम लिया ।

वो बस उसे देख रहा था ,तो दिशा ने उसके चेहरे के सामने चुटकी बजायी तो वो जैसे नींद से जागा ,उसने दिशा को अपनी पकड़ से आजाद किया और बोला : तुम ठीक तो हो न दिशा !

दिशा बोली :: हम तो ठीक है मिस्टर रेहान ,पर आप ठीक नहीं लग रहे क्या बात है कौनसी बीमारी लगी है !

Emotional love story in hindi

रेहान उसकी आँखों में देख के बोल ," तुम्हे तो अच्छे से पता है सब 
दिशा ने जानबूझ के बात को इग्नोर किया और पिया से बोली :: चल न तुझे लाइब्रेरी से बुक्स लेनी थी न !
पिया आश्चर्य से उसे देख रही थी ,तो दिशा ने उसे इशारा किया तो पिया बोली :: हाँ .. हाँ याद आया मुझे बुक्स लेनी है तो हम चलते है रेहान !

रेहान ने भी बाई बोल दिया ,जैसे उसे तो सब पता था ।

थोड़ि दूर  जाके पिया बोली :: यार तीन साल से वो तुझे परपोज़ कर रहा ,पूरी कॉलेज की लड़कियां उसपे फिदा है और उसने तेरे लिए किसी को मुड़ के नहीँ देखा ,यार क्या कमी है उसमें !

दिशा ने कोई जवाब नहीं दिया । पिया ने उसे कंधों से पकड़ के अपनी तरफ किया :: मुझे नही पता तेरे दिमाग में क्या चल रहा है ,पर सुन ले रेहान जैसे प्यारे लड़के का दिल तोड़ के तुम ठीक नहीं कर रही !

और पिया वहाँ से चली गयी । दिशा भी आके कॉलेज के गार्डन की चेयर पे बैठ गयी और ऊपर देख के बोली ::देख लिया हनु ( हनुमान जी) ! आज फिर से मेरी वजह से रेहान के साथ गलत हो रहा ! क्यों हनु हम क्यों गलत कर रहे उसके साथ ,क्यों वो अपनी लाइफ में आगे बढ़ नही जाता ! बस एक बार क्लियर हो जाये कि हम ..

तभी पियोन वहां आया और बोला दिशा आप है !

दिशा :: यस बोलिये !
पियोन :: सिटी हॉस्पिटल से आपके लिए कोई पार्सल आया है ।

दिशा ने वो पार्सल लिया और उसे थैंक्स बोला।उसने वो पार्सल खोला और रिपोर्ट पढ़ने लगी ।

और पूरा पढ़ने के बाद वो धम से चेयर पे बैठ गयी ,पहली बार था जब उसकी आँखों में आँशु थे ।रिपोर्ट पे लिखा था ," कैंसर स्क्रीनिंग " और टेस्ट में लिखा हुआ था पॉजिटिव !

उसकी आँखों के सामने धुंधला दिखने लगा ,उसे कुछ महीनों पहले की बात याद आयी -

few months ago

दिशा आज बहुत खुश थी आज वो यूपीएसी के प्री एग्जाम में कवालिफाई कर चुकी थी ,और सबसे ज्यादा खुश इस बात से थी कि वो आज रेहान को हाँ करने वाली थी ।उसे भी उसके तीन सालों के प्यार का अहसास हो चुका था ।

वो आयने के सामने खड़ी होके रेडी हो रही थी ।रेडी होके जैसे ही वो मुड़ी उसके लंगस में तेज दर्द उठा ।वो जल्दी से बाथरूम में गयी तो और उसे उल्टियां होने लगी जो खून की थी ,वो एक बार के लिए डर गई ।फिर जल्दी से घर से बाहर निकली और  सिटी हॉस्पिटल गई और सारे टेस्ट करवाये ।

Emotional love story in hindi

Emotional love story in hindi

present day -

उसके सीने में जैसे एक दर्द सा उठा ,वो अब चंद दिन जियेगी ,उसे खुद ही यकीन नहीं हो रहा था । तभी पीछे से पिया की आवाज़ आयी । दिशा ने जल्दी से रिपोर्ट छुपाई और अपने आँशु पोंछे ,पिया सीधे आके उसके गले लग गयी :: मेरी जान बहुत बड़ी खुशखबरी है !

दिशा हँसते हुए बोली :: क्या हो गया तू माँ बनने वाली है या पीयूष आज ही शादी करने वाला है तुझसे !

पिया :: धत ! कुछ भी ! उससे भी बड़ी खुशखबरी है !
दिशा :: अरे तो बोल न ! अब क्या नगाड़े बाजवाउँ!

पिया उसे गोल गोल घुमाते हुए बोली :: तू यूपीएसी मैन्स में कवालिफाई कर गयी है !
दिशा पे जैसे एक ओर वज्रपात गिरा ।वो खुश हो या दुखी उसे तो ये ही समझ नही आया ।उसे ऐसे देख पिया बोली :: तू खुश नहीं है क्या !

दिशा :: हाँ .. मैं  बहुत खुश हूं न !
पिया :: तो चल न पार्टी करें !
दिशा :: अभी नही बाद में ।

पिया कुछ कह पाती इससे पहले ही कॉलेज के बीच में पटाको की आवाज़ आयी ।
दिशा :: वहाँ क्या हो रहा है ?
पिया :: पता नही चल देखते है !

दोनो वहाँ पहुची तो देखा पूरा कॉलेज ही डांस कर रहा था और रेहान तो कार पे बैठा हुआ था और सबको चेयर्स कर रहा था ।

वो जोर से बोला :: आज मेरी दिशा का सपना पूरा हो गया ! पूरे शहर में धूम मचा दो ।

दिशा ने जब ये सुना तो वो अपनी जगह ही जम गई ।कुछ देर पहले जो सच उसके सामने आया उसके बाद उसे रेहान को रोकना था । वो उसके पास गई और उसके सामने खड़ी हो गयी ।वो कार से नीचे उतरा और बोला :: तुम्हारा सपना पूरा हो गया ..

वो आगे बोल पता उससे पहले उसने एक थप्पड़ उसके गाल पे रख दिया ।और जैसे एक पल के लिए सब शांत हो गया ।

दिशा :: बस ! मेरी लाइफ के फैसले मेरे है उनमें घुसो मत प्लीज ! कितनी बार कहूँ तुमसे की मैं नही करती तुमसे ...प्यार ,बस नही करती !

वो मुड़ के चली गयी ,उसकी आँखों में भी आँशु थे पर उसने सबसे छुपा लिया ।

वो अब घर आ गयी घर पे भी मम्मी पापा खुश थे सब बधाई दे रहे थे वो भी मुस्कुरा के सबको जवाब दे रही थी ।रात में वो अपने कमरे की बालकनी में बैठ के आसमान के ऊपर देख के बोली :: बुला लिया न आपने इतनी जल्दी मेरको अपने पास ! जी नही लगता न मेरा बिना आपका हनु ! चलो कोई न ये छः महीने तो मेरे पास है इनको तो में अपनी मर्ज़ी से जिऊंगी ।

वो थोड़ि देर रुकी और फिर बोली :: ऐ हनु ! मेरे लिए अच्छा सा रूम देख देना । मेरे रूम में एक ऐसी ,एक फ्रीज़ ,खाने का बहुत से सामान ... नही चाहिए । बस मम्मी पापा चाहिए !

और वो अपने आँशुओ को छिपाते हुए बोली :: हाँ हाँ जानती हूं सृष्टि का नियम है बला बला ..!  पर एक वादा करो हर जन्म में ये ही मम्मी पापा दोगे ।

थोड़ि देर बाद वो फिर :: थैंक यू सो मच ! और हाँ मेरे जाने के बाद सबको संभाल लेना । आपको तो पता है सब भुलक्कड़ है कुछ न कुछ भूलते है तो उनको ध्यान रखना हाँ ..!

वो पीछे मुड़ी तो उसकी बहन खड़ी थी वो बोली :: अरे मीना दी आप कब आयी और जिजु कँहा है !

मीना :: वो सब ठीक है ! और बधाई हो भावी आईएएस ! वेल एक ओर खुशखबरी है ।

और उसने अपने पेट की तरफ देखा ,दिशा समझ के उसे गले से लगा लिया :: सच दी हम मौसी बनने वाले है ! आज की बेस्ट खबर तो ये हैं ।

और काफी देर तक वो दोनो बातें करते रहे ।सुबहे वो फिर से कॉलेज गयी ,वो कॉरिडोर में थी तभी किसी ने उसका हाथ पकड़ा और रूम में खींच लिया ।सामने रेहान था ।

Emotional love story in hindi

दिशा :: रेहान ये सब क्या है ! छोड़ो मुझे ।
रेहान :: चाहती क्या हो ,दिखती नही है क्या मेरी फीलिंग्स या इतनी पत्थर दिल हो कि कोई फर्क नहीं पड़ता !
दिशा : मुझे इस बारे में कोई बात नही करनी छोड़ो मुझे !
रेहान की पकड़ और मजबूत हो गयी वो बोला :: नहीं छोड़ रहा जब तक मेरे सवालों के जवाब नही देती ।देखो दिशा तुम्हे जितना वक़्त चाहिए ले लो पर प्लीज ऐसे मत करो ।

दिशा ने उसकी आँखों में देखा :: वक़्त ही तो नहीं है मेरे पास !!
रेहान ने ये सुनके उसको छोड़ दिया
दिशा :: प्लीज रेहान मेरे पीछे टाइम वेस्ट मत करो ,तुम्हे मुझसे अछि लड़किया मिल जाएंगी ।
रेहान :: मुझे सिर्फ तुम चाहिए कोई ओर नहीं !
दिशा :: प्लीज जिद मत करो !

पर रेहान बिना सुने निकल गया । दिशा ने भी कुछ नही बोला ।

ऐसे ही एक मंथ बीत गया आज दिशा का इंटरवीयू था ।उससे सवाल किए जा रहे थे तभी एक examiner ने पूछा :: आप क्यों बनाना चाहती है आईएएस ! जैसा कि सबका मोटिव होता है आपका भी होगा कुछ ।

दिशा बोली : सर एक सवाल पूछ सकते है बस इस क्वेश्चन का  आंसर देने के लिए ।
उन्होंने हामी भरी तो दिशा बोली :: अगर आपको पता हो कि आपके पास जीने के लिए बस चंद दिन हो और आपको एक सपना पूरा करना है तो आप क्या करेंगे !
वो बोले :: मैं उस सपने को पूरा करने की हर कोशिश करूँगा ।
दिशा :: बस यही मेरा आंसर है !
सब उसे आश्यर्य से देख रहे थे । वो इंटरव्यू देके बाहर आ गयी

ऐसे ही दो महीने बीत गए और रिजल्ट के दिन के साथ साथ उसके जिंदगी के आखिरी लमहे भी पास आ रहे थे । वो बैठी थी एक दिन ऐसे ही बालकनी में तभी देखा कि पीछे से कुछ गिरने की आवाज़ आयी ।उसने सामने देखा तो मीना के हाथ से कुछ पेपर्स गिर गए है और उसे जैसे कोई सदमा लगा है ।

दिशा ने उसे जल्दी से संभाल :: दिदी संभाल के ऐसी सिचुएशन में आप  को ध्यान रखना चाहिए ।

मीना उसकी तरफ देख के बोली :: तुझे लंग कैंसर है !!
दिशा ने नजर झुका ली ।

मीना उसे पकड़ते हुए बोली :: बता न तुझे लंग कैंसर है वो भी आखिरी स्टेज में ।

दिशा :: हाँ ! हमारे बस अब कुछ वक्त ओर है जीने के लिए । पर हमें कोई गम नही है ।इतनी लाइफ भी हमने खुल के जीई है ..

मीना :: चुप ! तुझे कुछ नही होगा ,हम तुझे बेस्ट सर्जन के पास ले जाएंगे ,तू चल हमारे साथ ।

दिशा हाथ छुड़ाते हुए बोली :: नही दी ! अब कोई फायदा नही है ।हमारे पास बस इतना ही वक़्त था ।

वो बालकनी में जाते हुए बोली ::वो आसमान में एक खाली जगह है ना हम वहाँ चमकेंगे ! हनु ने बताया हमें ,और जब भी मुस्कुरायेंगे तब झिलमिला उठेंगे ।

मीना ने  उसे अपनी तरफ किया :: तू पागल हो गयी है ! कुछ नही होगा तुझे अभी चल हॉस्पिटल!

दिशा ::दी प्लीज !  अब कुछ भी नही हो सकता है  ,हमारे पास इतना ही वक़्त था ।

फिर भी दिशा के चेहरे पे एक स्माइल थी ।
मीना :: किस मिट्टी कि बनी है तू ,हर वक़्त हँसता खिलखिलाता चेहरा कैसे रख लेती है तू !

दिशा मौहोल को हल्का करते हुए बोली :: बस ऐसे ही ,और हाँ आप ये बात किसी को नही बताएंगी ।हम सब से खुसी खुसी विदा लेना चाहते है ।

Emotional love story in hindi

मीना के आंखों में आँशु आ गए ।दिशा ने उसके आँशु पोंछें और बोली :: अरे रो क्यों रही हो , जब नन्ही सी जान आये तो उसका नाम मेरे नाम पे रख देना ,आपको ऐसा ही लगेगा जैसे मैं हु ।

मीना फिर फुट फुट के रोने लगी ।दिशा ने मुस्कुराते हुए उसे गले लगाया और ऊपर देख के बोली :: देखा हनु दिदी कितना दुःखी हो गयी ,पर कोई न आप एक छोटी सी परी देना जो मेरे जितनी ही क्यूट हो !! हाँ हाँ हम क्यूट ही हैं। अब झूठ बोलने की जरूरत नहीं।

दस दिन बीत गए और एक दिन दिशा के सीने में तेज दर्द हुआ ,और साथ ही मीना को भी लेबर पैन सुरु हो गया । मीना को सब हॉस्पिटल लेके गए ,उसे OT  में पहुँचाय ।पर तभी दिशा भी बेहोश हो गयी ।और सब घबरा गए ।

दिशा जब होस में आई तो वो i.c.u. में थी । वो सबके उतरे हुए चहरे देख के बोली :: अरे पहलवानों क्या हो गया ,मुँह पे बहारे कैसे बजे हुए ।मैं तो बिल्कुल ठीक हुँ ।
ये कहते कहते उसे खाँसी आ गयी और उसकी हालत खराब हो गयी ।

सबने डॉक्टर को बुलाया ।डॉक्टर ने चेक किया और निराशा से सबकी तरफ देखा ,दिशा समझ गयी कि अब कुछ आखिरी पल बचे हैं उसके पास।

दिशा :: हम जानते है आपके पास बहुत से सवाल है जो हमसे पूछना चाहते है ।पर उतना वक़्त हमारे पास नही है ।पर हमारी डायरी सारे सवालों के जवाब दे देगी । और पिया कहाँ है ?

तभी रोते हुए पिया आयी :: तूने क्यों नही बताया कि तू इतने दर्द में है !!

दिशा मुस्कुराते हुए बोली :: सुन ! तू मेरी सबसे अच्छी फ्रेंड है ! तुझे ऊपर जाके याद करूंगी पक्का ।और सुन रेहान से कहना मैं उससे बहुत प्यार करती हूं खुद से भी ज्यादा ! प्लीज इतना कह देना ।

"तो सामने से बोल दो " सबने दरवाजे की तरफ देखा तो  रेहान खड़ा था। उसकी आंखें नम थी उसने उसका हाथ पकड़ा और बोला :: प्लीज मत जाओ ऐसे अधूरा छोड़ के !

दिशा :: हमारे पास वक़्त बहुत कम है रेहान! देखो तुम अच्छी सी लड़की देख के उसके साथ अपनी लाइफ बिताना और हमेशा खुश रहना !

रेहान:: नही तुम कहीं नही जा रही हो,मैं अभी बेस्ट नुरोसर्जन को बुलाऊंगा ,तुम्हे कुछ नही होगा ।

दिशा :: प्लीज रेहान मेरे पास अब वक्त नहीं है ।

उसने अपने पापा की तरफ हाथ बढ़ाया ,उसके मम्मी पापा ने उसका हाथ थाम लिया :: पापा, मम्मा ! हम आपके अच्छी बेटी नहीं बन पाए ! हम आपको ऐसे छोड़ के जा रहे है ,पर यकीन मानिए हम आपको हमेशा ऊपर से देखेंगे ।

ये बात सुन सब फफक पड़े । बाहर OT में एक नया जन्म होने वाला था और यहाँ  वो अपनी आखिरी साँसे गिन रही थी ।

दिशा उनसब से बोली :: अब ऐसे रोते हुए विदा करोगे क्या ! यार में हनु से शिकायत कर दूंगी की मुझे ऐसे रोंदू शक्ल बना के भेजा है ,चलो स्माइल कर दो ।
उसने अपने हाथ से स्माइल करने का संकेत किया  और बोली " स्माइल प्लीज"!
सब हल्का सा मुस्कुरा दिए ,दिशा अब धीरे धीरे अपनी आंखें बंद करने लगी सब रो पड़े ।तभी ओट से किलकारी गूँजी ।

एक नर्स आयी और बोली ," मुबारक हो लड़की हुई है !"

दिशा के पापा ने उसे गोद में लिया और बोले " इसका नाम होगा दिशा !"

और बाहर टीवी पे न्यूज़ चल रही थी :- आज यूपीएसी के रिजल्ट डिक्लेयर हुए है ,ओर अबकी बार पूरे हिंदुस्तान में टॉप किया है दिशा मालिक ने । हमें गर्व है अपनी इस होनहार देश की बेटी पे । सबकी आँखे नम थी लेकिन उसपे मुस्कान थी जो दिशा छोड़ गई थी ।

कुछ महीनों बाद रेहान दिशा के रूम में था तभी उसकी नजर एक डायरी पे पड़ी ,उसने पहले पन्ना खोला जिसपे दिशा की तितली को पकड़ते हुए एक तस्वीर थी ,और उसके आखिरी पन्ने पे कुछ लिखा हुआ था -

हमें नही पता कि आप कौन है जो इसे पढ़ रहे है ,पर आप इसे पढ़ रहे है मतलब मैं आपके बीच नही हूँ। जानती हूं ऐसे  पढ़ के आंसू आएंगे ,पर हमें रोते हुए लोग बिल्कुल पसंद नही तो प्लीज मुस्कुरा दीजिये ।

रेहान की आँखों में नमी होते हुए बीबी वो मुस्कुरा दिया ।उसने आगे पढ़ा -

Emotional love story in hindi

ये हुई न बात ।अब किसी के आने या जाने से जिंदगी तो रुकती नही न इसलिए आप सब भी एक नई शुरवात करे ,जिसमे मुझे भी एक छोटा सा हिस्सा दे दीजिए गा ! लाइफ बहुत खूबसूरत है ये हमने तब जाना जब हमारे पास बस कुछ महीने थे इस लाइफ के ,जिंदगी में तकलीफे किसे नही है बस हम उन तकलीफों का रोना रोयेंगे तो आगे कभी नही बढ़ पाएंगे । चलती का नाम जिंदगी है..हाँ हाँ पता है ये कुछ और डायलॉग है ।पर इतना तो चलता है ! हम तो ऊपर खुश है और आप दुखी रहेंगे तो हमे अच्छा नही लगेगा ,कभी याद आये तो उस कोने वाले स्टार को देख लेना हम मुस्कुरा रहे है वहाँ !  चलिये आप भी मुस्कुराए .. अरे हँसो न !
स्माइल प्लीज! ये हुई न बात ! चलिये चलते है अब अपना ख्याल रखियेगा ।

रेहान ने डायरी बंद की ओर आँखों की नमी को साफ करते हुए आसमान को देख के बोल :: सबको हँसाना आदत है ना तुम्हारी ।इसी अदा पे ही तो रेहान फिदा है आज भी । सच में तुमसे प्यार करके मैंने कोई गलती नही की ।

21 साल बाद -

आज सब खुश थे ,मिठाई बंट रही थी । सभी टीवी के सामने थे सामने दिशा ( मीना की बेटी ) बैठी थी ।न्यूज़ एंकर ने उससे पूछा :: आपके लिए सबसे बड़ी उपलब्धि है कि आप आईएएस बन चुकी है वो भी फर्स्ट रैंक से कैसे महसूस हो रहा?

दिशा :: बहुत ही अच्छा ! आज हमने सिर्फ मेरी मम्मी पापा का नही बल्कि उनका सपना भी पूरा कर दिया जिनके नाम पे मेरा नाम है मेरी मौसी दिशा मालिक ! जी हां  आईएएस ऑफिसर दिशा मालिक ।

सबकी आंखों में खुसी के आँशु थे । रेहान ने कभी शादी नही की उसने दिशा ओरपहन खोल लिया और बच्चो की शिक्षा के लिए काम करने लग गया । उसके दिल में आज भी वो जिंदा थी

रात के वक़्त में दिशा के मम्मी पापा आसमान में उस टिमटिमाते हुए तारे को देख रहे थे ,दिशा की मम्मी बोली :: आज दिशा बहुत खुश होंगी न !
पापा :: हाँ मुस्कुरा रही देखो न । तो चलो अब तुम भी स्माइल प्लीज !

आँगन में लगी दिशा की तस्वीर भी जैसे मुस्कुरा उठी ।

समाप्त !!
@दीक्षा चौधरी

Emotional love story in Hindi: ये कहानी आपको कैसी लगी आप हमें कॉमेंट करके जरुर बताए और ऐसी ही कहानी emotional love story in hindi पढ़ने के लिए हमें फॉलो करे आपका शुक्रिया!! 

एक टिप्पणी भेजें

Do not enter any spamming comment