pollution essay in hindi। प्रदूषण पर निबंध। essay on pollution in hindi

pollution essay in hindi। प्रदूषण पर निबंध। essay on pollution in hindi

pollution in hindi essay: हेलो दोस्तों कैसे हो आप लोग मैं आशा करता हूं कि आप सब ठीक होंगे आज मैं आपके लिए एक बहुत ही अच्छा निबंध लेकर आया हूं इसके बारे में आप सब जाने के लिए उत्सुक भी होंगे और आप सब जानना भी चाहते होंगे आजकल हमारे देश में प्रदूषण इतना बढ़ गया है कि हम उसे कंट्रोल नहीं कर पा रहे हैं और इस चक्कर में हमारा कितना नुकसान हो रहा है यह खुद हमें भी पता नहीं है और प्रदूषण का सबसे बड़ा कारण इंसान ही है क्योंकि इंसान ही प्रदूषण को बढ़ावा दे रहा है और इसे रोकने की कोशिश बिल्कुल भी नहीं कर रहा है।।

आज हम प्रदूषण को रोकने में कामयाब हो जाते हैं तो हमारी से ज्यादा बीमारियों से छुटकारा पाए जाएंगे और इसके बारे में हमें हमेशा निबंध लिखने के लिए कहा जाता है पर हम इस पर निबंध आसानी से देख नहीं पाते हैं इसीलिए मैं आज आपको प्रदूषण पर निबंध लिखकर बताने वाला हूं। दोस्तों प्रदूषण को हम इंग्लिश में essay on pollution in hindi कहते हैं और प्रदूषण इतना हद से ज्यादा बढ़ चुका है कि अब हम इसे काबू में कर नहीं सकते हैं पर इस को काबू में करने के लिए हम प्रयास शुरू कर सकते हैं और हमेशा कहा जाता है कि कोशिश करने वाले की कभी हार नहीं होती इसीलिए हमें प्रदूषण को कम करने के लिए निरंतर प्रयास करते रहना चाहिए तो आइए शुरू करते हैं हम आज का essay on pollution in hindi निबंध में आशा करता हूं आपको ये जरुर पसंद आयेगा।।

essay on pollution in hindi:

pollution essay in hindi। प्रदूषण पर निबंध। essay on pollution in hindi

pollution essay in hindi: हम पोलूशन के बारे में निबंध लिखेंउसके पहले हम इस बात पर चर्चा कर लेना चाहते हैं कि आखिर पोलूशन होता क्या है और प्रदूषण में कितने प्रकार का होता है क्योंकि प्रदूषण बहुत सारे वजह और कारणों से होता है और प्रदूषण भी बहुत प्रकार का होता है तो हम एक-एक करके सारे प्रदूषण के प्रकारों पर चर्चा करते हैं

1. जल प्रदूषण,
2. वायु प्रदूषण
3. ध्वनि प्रदूषण

1. जल प्रदूषण:

दोस्तों मैंने सबसे पहले प्रदूषण की बात करें तो वह जल प्रदूषण जाता है क्योंकि जल प्रदूषण एक बहुत ही बड़ी वैश्विक समस्या से निजात पाने की कोशिश कर रहे हैं पर हम उससे निजात नहीं पा रहे हैं क्योंकि इसका बहुत बड़ा बड़ा कारण है क्योंकि जल प्रदूषण मार ही वजह से हो रहा है आज नदियां बहुत गंदी हो रही है और नदियों में बहुत सारा में प्रवाहित किया जा रहा है!!

जो इंसान ही करता है जिसकी वजह से सब को बहुत सारी परेशानी का सामना करना पड़ता है आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि पृथ्वी पर पीने लायक एक परसेंट ही बचा है और नदियों की सफाई नहीं करेंगे नहीं करेंगे तो 1 दिन ऐसा आएगा कि हमारे पास पीने का पानी भी नहीं बचेगा इसीलिए हमें जल प्रदूषण रोकने के लिए विशेष उपाय करना चाहिए और सरकार की योजनाओं में उनकी भागीदारी निभाना चाहिए उसके लिए कुछ कठिन कदम उठा पाएं!!

2. वायु प्रदूषण

दोस्तों अगर हम दूसरे नंबर पर बात करें तो वह आता है वायु प्रदूषण वायु प्रदूषण भी आप जानते हैं कि कितना खतरनाक होता है और सबसे ज्यादा वायु प्रदूषण दिल्ली में होता है क्योंकि वहां पर लोगों को अब सांस लेने में भी परेशानी आने लगी है वायु प्रदूषण कारखानों से निकले हुए तुम्हें और यातायात किरण बहुत ज्यादा फैल रहा है क्योंकि हम सरकार के नियमों का पालन बिल्कुल भी नहीं कर रहे हैं हम आज भी ऑड ईवन का इस्तेमाल नहीं करते और पुरानी गाड़ियों को चलाते हैं जिसकी वजह से बहुत सारा धुआं निकलता है और वह सांस के द्वारा हमारे अंदर जाता है इसकी वजह से हमारे अंदर बहुत सारी बीमारियां हो जाती हैं!!

वायु प्रदूषण एक वैश्विक समस्या है जिससे पूरा देश लड़ रहा है और इस समस्या का समाधान भी हमारे ही पास है उनकी अगर हम एक बार संकल्प कर लें यह में समस्या को दूर करना चाहते हैं तो इस समय से ज्यादा बड़े नहीं हैं हमें समस्या को बहुत ही आसानी से और बहुत ही जल्दी दूर कर सकते हैं!!

पर इसके लिए हमें सरकार का साथ देना होगा और हमें उन के बनाए हुए नियम कायदे कानून पर चलना होगा हमें यातायात रखम उपयोग करना होगा हमें उद्योगों पर रोकथाम लगानी होगी हमें कुछ ऐसे उपाय करने होंगे जिससे कि प्रदूषण कम हो सके और हमें प्रदूषण को रोकने के लिए खुद से कड़े कदम उठाने की आवश्यकता है जो कि हर भारतवासी का फर्ज बनता है!!

3. ध्वनि प्रदूषण

तीसरे नंबर पर आता है ध्वनि प्रदूषण ध्वनि प्रदूषण वाहनों से निकलने वाले दोनों कारणों से निकलने वाली ध्वनि और जो अत्यधिक कुछ आवाज में हम लोग गाने बजाते हैं उसको भी ध्वनि प्रदूषण में ही माना जाता है और इसका सबसे बड़ा कारण इंसान ही है क्योंकि वह किसी के महत्व को समझता ही नहीं है उसे खुद के मजे के लिए पर्यावरण को और लोगों को नुकसान पहुंचा रहा है हर इंसान अभी भी नहीं समझा तो बहुत देर हो जाएगी और हम इस प्रदूषण को रोकने में नाकामयाब हो जाएंगे अगर हम इस प्रदूषण रोकना चाहते हैं तो हमें सबसे पहले खुद को ही और सच्चा बनाना होगा!!

अभी इस बात को समझना होगा कि प्रदूषण हमारे लिए भी खतरा है अगर हम ऐसे नहीं होते तो 1 दिन ही हमें ही बर्बाद कर देगा पर लोग इस बात को समझने के लिए तैयार नहीं है क्योंकि वह अपनी जिम्मेदारी को किसी और दूसरे पर डाल देते हैं और वह यह कहने लगते हैं कि यह सब सिर्फ मेरी वजह से ही नहीं हो रहा है पर अगर हमेशा ही करते रहे तो 1 दिन यह बहुत बड़ी समस्या बन जाएगी और फिर हम इस समस्या को कभी भी दूर नहीं कर पाएंगे!!

essay on pollution in hindi:

हम अब यह तो जान चुके हैं कि प्रदूषण कितने प्रकार का होता है अब हमको यह जाने की आवश्यकता है कि आखिर हम प्रदूषण को किस प्रकार से रोक सकते हैं और इसके बचाव के क्या-क्या उपाय हैं क्योंकि आज हम प्रदूषण को रोकने में लग रहे हो जाते हैं तो हमारी सबसे बड़ी नाकामयाबी होगी और इस डाउनलोड ताला हमारी आने वाली पीढ़ियों को भी करना होगा इसीलिए हमें प्रदूषण को आज ही रुकना पड़ेगा और इसके लिए हमें कुछ उपाय करने पड़ेंगे!!

4. प्रदूषण को रोकने के उपाय

दोस्तों आज हम प्रदूषण रोकना चाहते हैं तो सबसे पहले हम बात करते हैं जल प्रदूषण की आज हम जल प्रदूषण को जड़ से खत्म करना चाहते हैं या उसे हमेशा के लिए रुकना चाहते हैं तो हमें सबसे पहले नदियों को स्वच्छ और सुंदर बनाना होगा उनके सारे गंदगी को वहां से बाहर निकालने के लिए बहुत सारी अभियान भी चलाए जा रहे हैं और अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए ध्यान देना चाहिए!!

आज की नदियां एक पर्यटन स्थल है और सब वहां पर घूमने जाते हैं वह मुझे नहीं सोचते कि वहां पर गंदगी करने से वो गन्दगी नदियों में जाकर मिलती है और फिर वही करने की नदियों को प्रदूषित करती है जैसे ही जल प्रदूषण होता है वह इसके अलावा हमें नदियों में मल मूत्र प्रभाव रखने से बचना चाहिए कारखानों के बहुत से ऐसे हानिकारक पदार्थ होते हैं जो नदियों में प्रवाहित कर देते हैं उन्होंने प्रभावित होने से रोकना होगा तभी हम जल प्रदूषण को होने से बचा सकते हैं!!

इस नंबर पर अगर हम बात करें तो वह होता है वायु प्रदूषण वायु प्रदूषण को रोकना चाहते हैं तो हमें खुद से इसके लिए कदम उठाने होंगे हमें अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाने होंगे जिससे वर्षा हो और इसका ओजोन परत पर और हमारे जीवन पर कोई प्रभाव ना पड़े हम यह सब करते हैं हमारे प्रदूषण को रोकने में कामयाब हो सकते हैं इसके अलावा हमें होते हो और कारखानों पर रोक लगानी होगी हमें उपयोग करना होगा हम करते हैं तो हमें पुराने वाहनों को नहीं करना होगा जिसे बनाने के लिए और वायु प्रदूषण काम हो!!

तीसरे नंबर पर बात आती है धोनी प्रदूषण की अगर हम तो हम प्रदूषण को रोकना चाहते हैं तो इसके लिए भी इंसान को ही सब कुछ करना होगा तो फिर कुछ और होता तो इंसान की वजह से ही है अगर हम ध्वनि प्रदूषण को रोकना चाहते हैं तो हमें कम हॉर्न वाले वाहनों का उपयोग करना होगा हमें अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी और हमें और दूसरों का भी ध्यान करके चलना होगा तभी हम ध्वनि प्रदूषण को रोकने में कामयाब हो सकते हैं!!

5. प्रदूषण से होने वाले नुकसान

अब हम प्रदूषण से होने वाले नुकसान पर चर्चा करते हैं क्योंकि हमें प्रदूषण से क्या-क्या नुकसान होते हैं क्योंकि हमें प्रदूषण से बहुत अधिक नुकसान होता है जो हमारे स्वास्थ्य के साथ-साथ पर्यावरण को भी बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचा रहा है पूरा वायु प्रदूषण कोई पर्यावरण प्रदूषण के नाम से जान सकते हैं तो आखिर हमें इन से क्या नुकसान होता है यह भी हमें पता होना चाहिए तो आई हम इसके बारे में विस्तार से चर्चा करते हैं

प्रदूषण से जो सबसे बड़ा नुकसान हो रहा है यही है कि ओजोन परत में छेद होता जा रहा है जिससे कि सूर्य की हानिकारक पर मिलने क्यों नहीं सीधे पृथ्वी पर पड़ रही है और वह पेड़ पौधों के साथ-साथ हमारे स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा है और हमने प्रदूषण को नहीं होता तो एक दिन यह छेद बहुत बड़ा हो जाएगा और हम सब मारे जाएंगे और बहुत सारी ऐसी बीमारियों का शिकार हो जाएंगे जिनका इलाज कर पाना असंभव होगा!!

दूसरा जल प्रदूषण से सबसे बड़ा नुकसान हो रहा है वह यह है कि प्रदूषण की वजह से वर्षा की भारी कमी हो रही है क्योंकि हम पेड़ पौधों को काट देते हैं और यह भी प्रदूषण के अंतर्गत ही आता है जिससे कि वर्षा की कमी हो रही है और पानी नहीं मिलने से पेड़ पौधे सूख रहे हैं और इससे किसानों को भी बहुत बड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है क्योंकि वर्षा ही नहीं होगी तो नहीं किसान फसल नहीं हो पाएगा वह नहीं हो पाएगा तो इस देश में अनाज की कमी हो जाएगी जो भी एक बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है!!

पूरा जल प्रदूषण के नुकसान के बारे में बात करें तो सबसे बड़ा नुकसान हमारे स्वास्थ्य को हो रहा है क्योंकि ऐसी बहुत सारी बीमारियां हैं जो हम खेले जा रहे हैं आजकल टीवी के बीमारी स्वास की बीमारी यह बीमारियां बहुत आजकल ज्यादा बढ़ गई हैं पर क्या आप जानते हैं यह सभी वायु प्रदूषण की वजह से ही पहनती हैं जो उद्योगों और कारखानों का तक हमारे शरीर के अंदर जाता है वही इन सब बीमारियों का कारण बनता है क्योंकि हम उस कमी को दूर नहीं कर पाते हैं और वह धुआं हमारे अंदर चला जाता है इसकी वजह से हमें बहुत सारी बीमारियां घेर लेती हैं और फिर उनका इलाज भी नहीं कर पाते हैं और धीरे-धीरे बीमारियां होने लगती हैं और एक दिन हम मृत्यु को प्राप्त हो जाते हैं!!

5. उपसंहार

अंत में यही निष्कर्ष निकलता है कि प्रदूषण हमारे स्वास्थ्य हमारे पर्यावरण और हमारी जिंदगी को बहुत नुकसान पहुंचा रहा है और इसका सबसे बड़ा कारण मनुष्य ही है अगर मनुष्य एक बार सोच लेगा कि उसे पर्यावरण को बचाना है और इस प्रदूषण को दूर करना है तो यह क्या ज्यादा मुश्किल भी नहीं है उनकी आखिर प्रदूषण तो हमें फैला रहे हैं और हमें इसकी सबसे बड़ी वजह है!!

तो आज से हम सब को यह संकल्प लेना होगा कि हम प्रदूषण को दूर कर देंगे और हम प्रदूषण को रोकने में लोगों की सहायता करने और सरकार के बने हुए नियमों और कानूनों की पालना करेंगे सरकार समय-समय पर जो योजनाएं प्रदूषण को दूर करने के लिए जाते हैं हम उन ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे जिससे कि प्रदूषण दूर हो जाए और हम इस समस्या से आसानी से निजात पा सकें!!

essay of pollution in hindi: दोस्तों मैं आशा करता हूं आपको हमारा आज का निबंध hindi essay on pollution जरूर पसंद आया होगा अगर आपको यह अच्छा लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तों परिवार और अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें और ऐसे ही अच्छे अच्छे निबंध और आर्टिकल पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग पर लगातार विजिट करते रहें इस पूरे आर्टिकल और इस पूरे निबंध को पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!!

Tage: essay of pollution in hindi, essay in hindi on pollution, hindi essay on pollution, pollution essay in hindi, प्रदूषण पर निबंध, essay on pollution in hindi


Tags

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.